एमनेस्टी इंडिया (Amnesty India )को ट्वीट करना पढ़ गया भारी ,हो गयी ट्रोल..

0
132

एमनेस्टी इंडिया (Amnesty India )को ट्वीट करना पढ़ गया भारी ,हो गयी ट्रोल..

 

एमनेस्टी इंडिया के ऑफिशियल पेज पर ट्वीट द्वारा चिंता व्यक्त की गई है। जिसमें यह लिखा गया है की बच्चों के शोषण वाले केसेस में मृत्युदंड देने से गरीब पिछड़े वर्ग एवं माइनॉरिटी वर्ग को मृत्यु का सामना करना होगा।

इस ट्वीट को लेकर सोशल मीडिया में काफी तीखी प्रतिक्रिया देखने मिल रही है। लोगों का कहना है की बच्चों का शोषण या रेप का गरीबी, बैकवर्ड क्लास,या अल्पसंख्यक वर्ग से कोई लेना देना नहीं होता।बच्चों का शोषण करना घटिया मानसिकता है जिसका उस व्यक्ति के गरीबी से बिल्कुल लेना देना नहीं होता। यह एक ऐसा कृत्य है जिसे दंडित किया जाना चाहिए चाहे वह किसी भी जाति पंथ या धर्म का हो।

कई लोगों ने तो यह भी आरोप लगाया है कि इस ट्वीट द्वारा अल्पसंख्यक समुदायों के रेपिस्ट को इन रेप के मामलों में बचाने का नैरेटिव बनाया जा रहा है। जिससे उन्हें भविष्य मे बचाया जा सके और बहुसंख्यक हिंदू समाज को दंडित किया जा सके।
क्रोधित ट्वीटरतियों ने एमनेस्टी इंडिया को “गेट आउट ऑफ इंडिया “(Get Out of India ) ऐसे ट्वीट करके अपना क्रोध व्यक्त किया है। वहीं कुछ लोगों ने तो एमनेस्टी इंडिया को भारत में पूर्ण रूप से प्रतिबंधित करने की भी मांग की है ।