आखिर कठुआ मामले में, 8 साल की मासूम को न्याय मिल ही गया

0
14

आखिर कठुआ मामले में, 8 साल की मासूम को न्याय मिल ही गया

इंसानियत की हैवानियत पर जीत

10 जनवरी 2018 को एक 8 साल की मासूम का सामूहिक बलात्कार हुआ था पूरे देश में आक्रोश दिखाई पड़ा।
मगर आज पंजाब के पठानकोट कोर्ट ने सात में से छह आरोपियों को सजा सुनाई जिसमें से एक आरोपी विशाल को बरी कर दिया गया। इस मामले में सबूत मिटाने के जुर्म में तीन पुलिस वालों को 5 साल की सजा सुनाई गई।
मगर दूसरी तरफ लड़की के परिवार वाले कोर्ट के निर्णय से काफी नाराज हैं। उनका कहना है आरोपियों को फांसी की सजा नहीं मिलती तब तक वह चैन से नहीं बैठेंगे।
आपको बता दें, ऐसे घृणात्मक कृत्य को लेकर मीडिया का अहम किरदार है क्योंकि ऐसे मामले आज मीडिया के कारण उजागर भी हुए हैं और पीड़ितों को न्याय के लिए ज्यादा इंतज़ार नहीं करना पड़ता। आज कठुआ मामले में निर्णय जल्द आनेका श्रेय भी मीडिया वर्ग को ही जाता है। मगर कुछ नेता अपनी राजनैतिक रोटी सेंकने से बाज नहीं आते। आरोपियों को हर बार धर्म विशेष से जोड़कर देखा जाता है। बलात्कारी का कोई धर्म नहीं होता वह सिर्फ शैतान होता है।