आखिर किस समुदाय का आर्थिक बहिष्कार करने की बात हो रही है

0
41

आखिर किस समुदाय का आर्थिक बहिष्कार करने की बात हो रही है..

बन सकती है भारत में म्यांमार जैसे स्थिति

सोशल मीडिया पर एक वीडियो तेज़ी से वायरल हो रहा है जिसमे कुछ धर्म विशेष समुदाय के लोग एक दूसरे से चर्चा करते दिख रहे है।

उस चर्चा में किसी समुदाय का आर्थिक बहिष्कार करने की बात की जा रही है। इस चर्चा में मुसलमानो से अपील भी की जा रही है की ”  किसी समुदाय के पेट्रोल पंप , दुकानों से कुछ न ले ।अगर आपके अंदर राई के दाने इतना भी ईमान है तो वह हिंदुओं के गाड़ी में नहीं बैठेगा, इनके मेडिकल से दवा नहीं लेगा।जो यह करेगा उसे जन्नत नसीब होगा।”

ऐसे अलग अलग तरकीबों द्वारा मुसलमानो को कभी रसूल का वास्ता दिए जाते दिख रहा है तो कहीं नबी का वास्ता दिए जाते दिख रहा है।

यह वीडियो किस क्षेत्र का है अब तक इसका पता लग नहीं पा रहा है।मगर इन भड़काऊ अपील से एक बात तोह साफ है की देश को और समाज को तोड़ने वाले लोग अब खुलकर सामने आ रहे हैं।मगर ऐसी खबरों को ज्यादा तवज्जोह नहीं दिया जाता। मगर अगर यही कृत्यों में अगर कोई हिंदू संघटन का नाम आता तो अब तक मोमबत्तियां की बाढ़ आ जाती।

आपको बता दें, कुछ सालों पहले यही सिलसिला म्यांमार में भी शुरू किया गया थी। बिज़नेस वॉर धीरे धीरे हिंसा और आखिरकार दंगो में तब्दील हुआ।वहाँ के रोहिंग्या ने यही मुहिम उठा रखी थी। मगर बाद में बौद्ध भिक्खु अशीन विराथु को 969 जैसे राष्ट्रीय मुहिम को मजबूरन उन्हें हाथ में लेना पडा। जिसका नतीजा पूरे दुनिया ने देखा है।
अगर यह अपील देश के हर कोने में होने लगी है तो भारत में स्थिति ठीक म्यांमार जैसे हो सकती है क्योंकि आर्थिक बहिष्कार के कारण देश में उबाल आने की ज्यादा संभावना है। व्यापार युद्ध धीरे धीरे दंगे फसाद का रूप ले लेगा।देश की स्थिति गृह युद्ध की तरफ जा सकती है।