अब खारघर में सामने आई मॉब लीनचिंग की घटना

0
  1. अब खारघर में सामने आई मॉब लीनचिंग की घटना

अब एक रिक्शा चालक को पीटा गया

कल शुक्रवार को जब प्रत्यदर्शी अनिल पवार(बदला हुआ नाम) नामक युवक अपने गाड़ी से इलाज कराने जा रहे थे। वहाँ उन्होंने देखा की एक रिक्शा चालक को कुछ असामाजिक तत्व मिलकर पिटाई कर रहे थे।

ऐसा बताया जा रहा है की यह मॉब लीनचिंग कुछ पैसेंजर ले जाने के विषय पर हुई। छोटी सी तू तू मैं मैं को बड़ा विवाद का रूप दे दिया गया और पुलिस में कंप्लेन करने के बजाय सीधे कानून को अपने हाथ में ले लिया। प्रत्यदर्शी जब इस घटना का वीडियो बनाने लगे तब उस भीड़ ने उन्हें भी मारने की कोशिश की। भीड़ इतनी उग्र थी की प्रत्यदर्शी की गाड़ी की कांच को भी पीटने लगे परिस्थिति बिगड़ते देख प्रत्यदर्शी आधी जानकारी लेकर ही उन्हें वहाँ से भागना पड़ा।
प्रत्यदर्शी के अनुसार , सेक्टर 35
खारघर में यह गुंडागर्दी अक्सर होती रहती है। सूत्र के अनुसार, खारघर पुलिस में इस विषय को लेकर कई शिकायत भी दर्ज है मगर फिर भी कुछ कारणों से पुलिस भी इनपर कारवाही करने से कतराती है।
अनिल पवार का कहना है की वह खुद इस विषय की शिकायत पुलिस स्टेशन में दर्ज नहीं करना चाहते हैं क्योंकि उन्हें डर है की वह मॉब लीनचिंग के अगले शिकार हो सकते हैं। मगर उन्होंने हमारे टीम के सदस्य से संपर्क कर फोन पर पूरा विवरण दे दिया है, और मामले की गंभीरता को देख उन्होंने अपना नाम गोपनीय रखने की प्रार्थना की।

इस रिपोर्टिंग से हमारा उद्देश्य है की मॉब लीनचिंग की घटना ग्रह मंत्रालय के निर्देश में आए और तुरंत इसपर कानून बने। दूसरी बात सिर्फ अल्पसंख्यक के मामलों की खबरों को राष्ट्रीय न्यूस्पोर्टल पर ही कवर की जाती है।बहुसंख्यकों के मामलों को या तो नजरअंदाज किया जाता है या उसको कहीं छोटेसे कोने में 5cm*5cm के कॉलम में जगह दी जाती है। इसलिए हर मामलों को पूर्ण निष्पक्षता से हम न्यूज़ कवर करने की कोशिश करते हैं। देश मे सभी नागरिकों को समान अधिकार से नहीं देखा जाता ।क्राइम की घटनाओं को भी अल्पसंख्यक बहुसंख्यक के नजर से देखकर रिपोर्टिंग होती है।