फैक्ट चेकर्स सिर्फ फेक न्यूज़ पर अंकुश लगाएगी ,पेड न्यूज पर कौन अंकुश लगाएगा ?

7

फैक्ट चेकर्स सिर्फ फेक न्यूज़ पर अंकुश लगाएगी ,पेड न्यूज पर कौन अंकुश लगाएगा ?

फैक्ट चेकर्स सिर्फ फेक न्यूज़ पर अंकुश लगाएगी ,पेड न्यूज पर कौन अंकुश लगाएगा ?

आज जहां देखो फेक न्यूज़ के लिए बड़े बड़े फैक्ट चेकर्स अपनी दूरबीन लगाए बैठे हुए है। इस बात को समझना है तो सबसे पहले पेड न्यूज समझनी होगी। हर नोबल प्रोफेशन में अच्छे और बुरे लोग होते हैं। बस बुरे को हटाकर अच्छा करने वालों को प्रोजेक्ट करना होता है। जबसे सोशल मीडिया का उगम हुआ है तबसे पेड न्यूज वालो के दिवाले निकल चुके हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि जनता को अब उनका असली चेहरा नजर आ रहा है।इनके पेड न्यूज से परेशान कुछ न्यूज़ पोर्टल का भी उदय हुआ है। इन न्यूज़ पोर्टल के कारण इनकी पेड न्यूज की धज्जियाँ उड़ाई जा रही है।लोगों की विश्वसनीयता उनपर से खत्म होते दिखाई दे रही थी। न्यूस्पोर्टल ने इनके पूरे झूठे प्रोपोगंडा पर पानी फेर दिया था।फिर अब दुकान बंद भी नहीं कर सकते ना । दुकान है तो चलानी ही होगी।
फिर एक नई संस्था बनाई गई ।नाम है फैक्ट चेकर्स । यह बस गलतियां ढूंढती है न्यूज़पोर्टल की। फिर उन गलतियों को हाय लाइट कर उनपर फेक न्यूज़ का टैग लगाने की कोशिश की जाती है जिन्हें दूसरे शब्दों में करैक्टर अस्ससिनेशन भी कह सकते है।ताकि भविष्य में कोई इनके न्यूज़पोर्टल पर विश्वास न करें।

गलत न्यूज़ सोशल मीडिया पर सिरक्यूलेट तो होती है इसमें कोई दोराहे नहीं। मगर सोशल मीडिया को पेड कहना गलत होगा।ऐसी कई खबरें होती है जो पेड न्यूज वाले नहीं दिखाते क्योंकि उनको न्यूज़ न दिखाने के लिए मोटी रकम मिलती है। सोशल मीडिया में ऐसी कोई डील नहीं होती।फैक्ट चेकर्स लॉबी सोशल मीडिया की विश्वसनीयता को जड़ से खत्म करने की कोशिश कर रही है। सोशल मीडिया पर ऐसे कई घटनाएं सामने आए और कई मामले हल भी हुए है।

फैक्ट चेकर्स को वैसे फेक न्यूज़ में कोई खास दिलचस्पी नहीं होती है ।बस समाज में ऐसे अपने आप को प्रोजेक्ट करते है जैसे इन्हें समाज की बहुत चिंता है। फैक्ट चेक की आड़ में सच बोलने वालों की आवाज़ हमेशा के लिए बंद करने का छिपा एजेंडा होता है। समाज को जितना नुकसान फेक न्यूज़ से हुआ है उससे कई गुना ज्यादा पेड न्यूज से हुआ है।

अगर इन्हें समाज की चिंता सता रही है तो फैक्ट चेकर्स कभी पेड न्यूज के लिए कोई संस्था खड़ी करने में दिलचस्पी दिखाएंगे ?