फर्जी डिग्री के आरोप में मुंब्रा और भिवंडी से 3 डॉक्टर गिरफ्तार

0

फर्जी डिग्री  के आरोप में मुंब्रा और भिवंडी से 3 डॉक्टर गिरफ्तार

शील डायघर पुलिस का सराहनीय कार्य

कुछ दिनों पहले मुंब्रा स्थित शील गाव के अंकित पाटिल नामक युवक की गलत उपचार के कारण मौत हुई थी। अंकित के रिश्तेदारों ने वकील प्रकाश सालसिंघीकर द्वारा लीगल नोटिस भेजी थी। लीगल नोटिस प्राप्त होते ही शील डायघर पुलिस हरकत में आई और डॉक्टर दावूद को गिरफ्तार किया।
शील डायघर पुलिस ने जब इस मामले की तहकीकात शुरू की तो पता लगा की मुंब्रा और भिवंडी से महज 2 से 3 हज़ार रुपए कई डॉक्टरों ने फर्जी डिग्रीयां बना रखी है। जाँच में डॉक्टर दावूद की डिग्री भी फर्जी पाई गई। यह डिग्री डॉक्टर दावूद ने मुंब्रा के डॉक्टर मोहम्मद फरहान मोहम्मद शाहिद खान (36) और भिवंडी के डॉक्टर अब्दुल रहमान हकीमुद्दीन खान(36) से महज 3 हज़ार रुपए में बना रखी थी। इस फर्जी डिग्री के आरोप में तीनों डॉक्टर को शील डायघर पुलिस ने गिरफ्तार किया गया है।
मुंब्रा और भिवंडी में और कितने डॉक्टर को फर्जी डिग्री बाँटी गयी है इसकी जाँच शील डायघर के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक रविकांत मालेकार कर रहे हैं।

इस खबर को लेकर शिल गाँव और आगरी समाज मे शिल डायघर पुलिस के कारवाही पर खुशी की लहर है।स्थानीय लोगों का कहना है की जाँच को आगे बनाये रखने से कई मासूमो की जाने बच सकती है।

सुने अंकित पाटिल के वकील एडवोकेट प्रकाश सालसिंघेकर का पूरा वीडियो

 

 

 

 

स्रोत : 6 जून 2019 , मुम्बई चौफेर