जलियांवाला बाग हत्याकांड पर ब्रिटेन का खेद , भारत के बढ़ते कद का नतीजा …

0

जलियांवाला बाग हत्याकांड पर ब्रिटेन का खेद , भारत के बढ़ते कद का नतीजा …

जलियांवाला बाग हत्याकांड की घटना पूरे विश्व में जगजाहिर है। जिसमें असंख्य भारतीयों को अंग्रेजों ने गोलियों से छन्नी किया था। इस घटना को लेकर करीबन 100 साल पूरे होने आए हैं। जलियांवाला बाग हत्याकांड भारत के इतिहास के काले पन्नो में दर्ज है। एक शांतिपूर्ण सभा के दौरान अंग्रेज अधिकारी जनरल डायर ने उपस्थित लोगों पर गोलियां चलाने का आदेश दे दिया था। यह बरसी शनिवार 13 अप्रैल को थी। जिस पर ब्रिटिश हाई कमिश्नर ने भी शर्मिंदगी व्यक्त की है।
मगर खेद व्यक्त करने के लिए ब्रिटेन को 100 साल आखिर क्यों लग गए? ऐसा सवाल सोशल मीडिया में लगातार उठाया जा रहा है।
इस खबर को लेकर तरह-तरह की चर्चाएं भी चल रही है। कोई इसका श्रेया भारत के पंतप्रधान नरेंद्र मोदी को दे रहे हैं कोई श्री राहुल गांधी के कूटनीति को। कोई इसे भारत के बढ़ते वैश्विक कद को बता रहे हैं तो कोई राहुल गांधी को श्रेय दे रहे हैं। आइए देखते हैं कुछ सोशल मीडिया के कमैंट्स।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here