जनसंख्या कानून को लेकर पाकिस्तान की सुप्रीम कोर्ट ने की हलचले तेज़ .

0
96

जनसंख्या कानून को लेकर पाकिस्तान की सुप्रीम कोर्ट ने की हलचले तेज़ ..भारत कब जागेगा ? सोशल मीडिया में उठ रही है आवाज़

जनसंख्या कानून को लेकर पाकिस्तान की सुप्रीम कोर्ट ने की हलचले तेज़ .

पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट बढ़ती जनसंख्या को लेकर एक्शन में आ चुकी है ।सुप्रीम कोर्ट ने माना कि बढ़ती जनसंख्या पाकिस्तान के भविष्य के लिए खतरा है। क्योंकि जनसंख्या का असर अब पाकिस्तान के संसाधनों पर भी देखने मिल रहा है।
पाकिस्तान अब विश्व मे जनसंख्या के आंकड़े को लेकर 5 वे स्थान पर है।पाकिस्तान में आज भी 29.5 लोग गरीबी रेखा से कम में गिने जा रहे है। शिक्षा से वंचित रहना , गरीबी एवं उच्च मृत्यु दर की मुख्य वजह बढ़ती जनसंख्या बताई जा रही है।
पाकिस्तान के स्वास्थ सचिव ज़ाहिद सईद ने 2025 तक 1.5% के दर से जनसंख्या घटाने की योजना बनाई है।
वहीं दूसरी तरफ भारत मे जनसंख्या नियंत्रण कानून के लिए लगातार आंदोलन किये जा रहे है।अधिवक्ता अश्विनी कुमार उपाध्याय ने इसी कानून के लिए मा सर्वोच्च न्यायालय में जनहित याचिका दाखिल की थी।
मगर सर्वोच्च न्यायालय ने यह याचिका को अस्वीकार कर दिया।आपको बतादे पाकिस्तान के इस निर्णय को लेकर भारत की जनता ने पाकिस्तान सुप्रीम कोर्ट की सराहना की है।वहीं भारत के सर्वोच्च न्यायालय के प्रति नाराजगी व्यक्त की जा रही है।