कैसे बने सेल्फ रिपोर्टर ?

0
70

कैसे बने सेल्फ रिपोर्टर ?

कैसे बने सेल्फ रिपोर्टर ?

पत्रकारिता को चौथा स्तंभ माना जाता है । इसके माध्यम से लोगो के विचार एवं समस्या प्रशासन के सामने रखने रखी जाती है । एक जमाना था जब लोग इलेक्ट्रॉनिक मीडिया पर ज्यादा निर्भर थे ।मगर अब इलेक्ट्रॉनिक मीडिया का दौर भी सिमटता नजर आ रहा है ।क्योंकि अब उसकी जगह ली है डिजिटल न्यूज़ पोर्टल ने ।

न्यूज़ पोर्टल की मांग दिन ब दिन बढ़ती जा रही है । क्योंकि लोगो के पास टी व्हि के सामने तक बैठने का समय नही रहा । यही कारण है डिजिटल वेब न्यूज़ पोर्टल का उदय एवं विस्तार हो रहा है ।

कैसे बने  नागरिक पत्रकार ?

पत्रकारिता 5Ws एवं 1H से बना हुआ है ।5Ws एवं 1H का मतलब होता है।What ,When ,Where ,Why ,Which और How । इसमें आपका प्रजेंस ऑफ माइंड और तेज़ नजर का खेल होता है । सेल्फ रिपोर्टिंग के लिए आपको बहुत बड़ा कोर्स या ट्रेनिंग लेने की जरूरत नही ।बस ऊपर दिए प्रश्न के उत्तर को हमे पॉइंट टू पॉइंट भेजे । कुछ एविडेंस याने प्रूफ के लिए कुछ कुछ फोटोज ,वीडियोस ,ऑडियो या कोई पत्र भी हमे दे सकते है ।इन सभी चीज़ों से न्यूज की ग्रेविटी और विश्वसनीयता बनी रहती है ।

कोई भी विषय को वीडियो के माध्यम से भी रख सकते है । जैसे मान लीजिए आपके रास्ते पर एक बहुत विशाल गड्डा है ।जिसमे गिरकर कई लोगो का एक्सीडेंट होने की संभावना है ।ऐसे वक्त में रिपोर्टिंग करते वक़्त आप अपना नाम , जिस स्थान पर खड़े है वहां का पूरा विवरण , फिर समस्या के मुख्य विषय पर बात करे और बात करते करते उस गड्ढे का वीडियोस का चित्रीकरण करे ।फिर कुछ सेकण्ड्स बाद वहां से कैमरा हटा कर फिर बात करे ।अगर हो सके तो कुछ लोगो का बाइट्स भी ले जिससे न्यूज़ की गंभीर स्थिति प्रशासन को मिल जाएगी ।पत्रकारिता में बस इतना याद रखे कि जब आप सेल्फ रिपोर्टिंग करते है तो लोगो की राय और समस्या जाने एवं उन्हें कवर करे नाकि अपना मत रखे ।
न्यूज़ के लिए आपको हर व्यक्ति से संपर्क बनाना होगा जिसे पब्लिक रिलेशन भी कहते है ।उसमें आपको स्वयं उन लोगो के पास जाए जिन्हें समस्या है जैसे शिक्षक ,पुलिस ,जनता ,डॉक्टर , सामाजिक संस्था । इनकी समस्या को समझे और फिर उन्हें अपने शब्दों में न्यूज़ का स्वरूप दे ।
ऊपर दिए सभी चीज़ों को ध्यान में रखकर आप हमारे न्यूस्पोर्टल को [email protected] पर मेल करे ।आपकी हर समस्या को हम अपने न्यूज़ पोर्टल पर डालेंगे मगर इतना याद रहे कि कोई भी जानकारी फेक न हो और सबका उद्देश्य जनहित का हो नाकि किसी की जानबूझकर बदनामी ।