लोकसभा चुनाव: होना चाहिए था क्या? क्या हो गया?

0

लोकसभा चुनाव: होना चाहिए था क्या? क्या हो गया?

डॉ रवि रमेशचन्द्र शुक्ल
विभागाध्यक्ष, राजनीतिशास्त्र
आर. डी. नेशनल कॉलेज,
मुंबई विद्यापीठ, बांद्रा मुंबई
मानद सलाहकार,
नेटजेक्स शोध एवं विकास संस्थान, मुंबई

डॉक्टर रवि रमेशचंद्र शुक्ल की कलम से:

बच्चों को विकास, महिला सशक्तिकरण, सामाजिक सौहार्द, पर्यावरण, स्वास्थ्य, शिक्षा, रोजगार, औद्योगिकरण, इन्फ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट और इन सब के लिए सुशासन किसी भी प्रगतिशील लोकतंत्र में चुनाव का मुद्दा होना चाहिए। क्या अभी के 17वी लोकसभा के लिए हो रहे चुनाव में किसी भी पार्टी या उम्मीदवार का यह सब मुद्दा है? यदि हां तो को वोट का सच्चा हकदार है। यदि नहीं तो उसे खारिज कर दें। देश है ये। सांप सीढ़ी का खेल नहीं, जहां हर कोई दूसरे को काटने और नीचे धकेलने में लगा है।

पूरी ब्लॉग पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

 

 

 

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here