मुंब्रा का मुम्बरेश्वर मंदिर था आइसिस के निशाने पर ..

1

मुंब्रा का मुम्बरेश्वर मंदिर था आइसिस के निशाने पर ..

मुंब्रा का मुम्बरेश्वर मंदिर था आइसिस के निशाने पर ..

महाराष्ट्र के एटीएस ने जिन 10 संदिग्ध आतंकवादियों को गिरफ्तार किया था उनके निशाने पर मुंब्रा शहर का 400 साल पुराना मुम्बरेश्वर मंदिर था।
सूत्रों के अनुसार 28 जनवरी को संदिग्ध व्यक्ति (ताला पौत्रीक) के नाम के व्यक्ति को चिन्हित किया गया और उससे सभी योजनाओं की जानकारी इकट्ठा की।
उसने सबसे पहले कैटरिंग स्टाफ के बारे में पूरी जानकारी इकट्ठा की जो पिछले साल श्रीमद् भागवत कथा के समय उपस्थित थे। ठीक उसके बाद मंदिर में भंडारा भी रखा गया था जहां हजारों लोगों ने शिवप्रसाद भी ग्रहण किया था। मगर रिपोर्ट के अनुसार महाप्रसाद में विषबाधा करने में वह नाकामयाब रहा। इसलिए 4 मार्च को इस साल की शिवरात्रि को विषबाधा करने की योजना बनी थी।
पूछताछ में भी पता चला कि मुम्बरेश्वर मंदिर के अलावा दक्षिण मुंबई नागपाडा स्थित बी.एम.सी हॉस्पिटल भी निशाने पर था।

आइसिस से जुड़े कुटेपदी जो की एक फार्मासिस्ट है और बी.एम.सी अस्पताल में काम करता था। उसने एटीएस को बताया कि उसने अस्पताल की दवाओं में घातक रसायन मिलाकर बड़ी संख्या में लोगों को मौत के घाट उतारने की योजना बनाई थी।

यह सभी योजनाएं 24 दिसंबर औरंगाबाद में रखें मीटिंग में हुई थी और यह सब योजना लोन वुल्फ अटैक के रूप में थी।

स्रोत :टाइम्स नाउ 7 फरवरी 2019