नाम बदलकर, कलावा पहनकर नसीम अंसारी कर रहा था चोरी

0

नाम बदलकर, कलावा पहनकर नसीम अंसारी कर रहा था चोरी

लोगों ने कर दिया पुलिस के हवाले 

 

तबरेज अंसारी की मॉब लीनचिंग के बाद अब एक और लीनचिंग की खबर झारखंड से आ रही है। यह खबर झारखंड के धनबाद जिल्हे के चिरकुंडा नजदीक तालदंगा हाउसिंग सोसाइटी की है। जहां पश्चिम बंगाल के कुल्टी क्षेत्र का एक चोर उस हाउसिंग सोसायटी के पटेल, तिवारी के घर चोरी को अंजाम दे रहा था।
जैसे ही चोर दीवार फांद रहा था तब कुछ लोगों ने उसे अंदर जाते देखा। वह चोर वहीं डर के मारे छिप गया। मगर लोगों ने उसकी धुनाई कर पुलिस को सौंप दिया।

आपको बता दे , यह तबरेज अंसारी के बाद का दूसरा मामला है जिसमे लोगों ने कानून अपने हाथ मे लिए है। पकड़ा गया आरोपी हाथ में कलावा बांधकर चोरी को अंजाम देने गया था। वह अपना नाम राजू करके बता रहा था जबकी उसका असली नाम नसीम अंसारी था।

मगर सोशल मीडिया पर कुछ सवाल उठ रहे है की आखिर वह चोर को कलावा पहनने की क्या जरूरत पड़ी और आखिर वह अपना असली नाम बताने में क्यों हिचकिचा रहा था ?

आखिर यह कृत्य करने की अलग अलग युक्तियाँ आखिर कौन देता है?

तबरेज अंसारी हत्या के बाद भी ऐसा कृत्य आखिर क्यों ?

तबरेज अंसारी के समर्थन में उतरे लोग इस नसीम अंसारी की खिलाफ कब उतरेंगे ?

क्या चोरी करना करने पर कोई खुल कर विरोध क्यों नहीं कर रहा है?

और इस नाम बदलने के लिए और एक समुदाय विशेष को बदनाम करने के लिए कोई ठोस कानून क्यों नही बनाती सरकार ऐसी माँग सोशल मीडिया पर उठ रही है।

 

स्रोत: 6 जुलाई 2019 , जागरण. कॉम