नाइजीरियन नागरिको का बढ़ रहा है पुलिस पर अन्याय

0
17

नाइजीरियन नागरिको का बढ़ रहा है पुलिस पर अन्याय

नाइजीरियन नागरिको का बढ़ रहा है पुलिस पर अन्याय

नाइजीरियन अब देश के लिए एक नई समस्या बन चुकी है। नाइजीरियन नागरिकों को कई बार ड्रग्स के मामलों में गिरफ्तार किया गया है। कुछ वर्षों पहले दिवा शहर के नागरिक परेशान थे।मगर स्थानीय विरोध के बाद प्रशासन हरकत में आई और फिर वहाँ से नाइजीरियन स्थलांतर हुए।

मुंबई में एक ऐसे ही मामला सामने आया है जहाँ नाइजीरियन नागरिक ने पीएसआय वाड़ीकर के दाँत तोड़ दिए और नाइजीरियन नागरिक ओरजी ने पुलिस कांस्टेबल बाबर के मुंह पर भयंकर मुक्के से प्रहार किया और फरार हुआ।
ड्रग्स मामले में नाइजीरियन नागरिक कुकुडु ऐयाजा को 2.2 लाख रुपये के कोकीन रखने के लिए गिरफ्तार किया। उसके पास रखे 22 ग्राम कोकीन भी पुलिस ने जप्त किया। दोनो पर एनडीपीएस एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है।

नाइजीरियन विदेशी नागरिक होने के कारण पुलिस भी कार्यवाही करने में संकोच करती है। यह हिंसा का पहला मामला नहीं है। पुलिस को कई बार इस हिंसा का सामना करना पड़ रहा है। अगर विदेशी नागरिक भारत में आकर इतनी हिम्मत कर सकते हैं फिर इस यह नागरिक भविष्य में कोई बड़े मामलों को भी अंजाम दे सकते हैं। यह नाइजीरियन नागरिक देश के लिए आंतरिक सुरक्षा के लिए भी खतरा हो सकते हैं। इन लोगों से देश के युवा नशे के आधीन हो रहे हैं। ऐसी चिंता सोशल मीडिया पर व्यक्त की जा रही है।

 

स्रोत: 14 अप्रैल 2019  ,नवभारत टाइम्स