शिवसेना ने छोड़ी महायुति अब शिवसैनिक दे रहे हैं इस्तीफा

0
44

शिवसेना ने छोड़ी महायुति अब शिवसैनिक दे रहे हैं इस्तीफा

जनता है शिवसेना के निर्णय से नाराज

शिवसेना ने जबसे महायुति छोड़ी है कई शिवसैनिक इस निर्णय से नाराज है। एक न्यूज़ रिपोर्ट अनुसार शिवसेना के 15 विधायक ने भी शिवसेना को पुनर्विचार करने की माँग की थी।

रमेश सोलंकी जो की शिवसेना के आईटी सेल के हेड माने जाते थे उन्होंने भी पार्टी छोड़ने का निर्णय लिया है।

रमेश सोलंकी ने शिवसेना 1992 में जॉइन की थी। महज 12 वर्ष की उम्र में उन्होंने बालासाहेब को आदर्श मानकर शिवसैनिक बनने की शपथ खाई थी। रमेश सोलंकी की पार्टी छोड़ने की प्रमुख वजह है कांग्रेस के साथ युति। सोलंकी का मानना है ” जो राम का नहीं ,वह किसी काम का नहीं “। किसी भी पद, टिकट के लिए उन्होंने कभी काम नहीं किया। शिवसेना के साथ वह पहाड़ की तरह खड़े होकर उनका समय समय पर बचाव किया। मगर अब शिवसेना के इस गलत निर्णय के वजह से उन्होंने पार्टी से इस्तीफा देने का मन बना लिया है।

सोशल मीडिया के कुछ पोस्ट द्वारा भी यह साफ झलकता है की आनेवाले दिनों में शिवसेना को बड़ी मशक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। ऐसी भी अटकलें लगाई जा रही है की शिवसेना का कांग्रेस से युति के निर्णय के वजह से आनेवाले चुनावों में उनका कैरियर दाव पर लग सकता है।

हिंदुत्व की लहर से जनता ने जहाँ पर सत्ता पलट कर दिया है ऐसे वक्त में शिवसेना का यह निर्णय उनके भविष्य के लिए घातक साबित हो सकती है क्योंकि वह पब्लिक परसेप्शन और उनकी भावनाओं को नजरअंदाज कर रही है ऐसा मत सोशल मीडिया पर जगह जगह व्यक्त किया जा रहा है।